स्कूलों को अब एकमुश्त कंपोजिट स्कूल ग्रांट मिलेगी, बढ़ेंगी सुविधाएं




शिक्षा विभाग में हाल ही लागू समग्र शिक्षा अभियान के तहत राज्य के सभी प्राथमिक, उच्च प्राथमिक, माध्यमिक व उच्च माध्यमिक स्कूलों को अब एकमुश्त कंपोजिट स्कूल ग्रांट मिलेगी। समग्र शिक्षा अभियान के राज्य परियोजना निदेशक शिवांगी स्वर्णकार ने एक पत्र जारी कर दिया है।


इसके तहत संस्था प्रधान इस राशि का उपयोग सामान्य शैक्षिक, सह-शैक्षिक, भौतिक आवश्यकताओं की पूर्ति व स्कूल स्वच्छता एक्शन प्लान के लिए कर सकेंगे। यह अनुदान डाइट डाटा 2017-018 के अनुसार शिक्षा अभियान व पंचायतीराज विभाग के स्कूलों के जीबीवी, संस्कृत शिक्षा, शिक्षाकर्मी बोर्ड व समाज कल्याण विभाग की ओर से संचालित स्कूलों को भी मिलेगा। ग्रामीण क्षेत्र में यह राशि पीईईओ तथा शहरी क्षेत्र में सीधे ही विद्यालय प्रबंधन एवं विकास समिति के बैंक खाते में जमा होगी।



इन कामों पर खर्च कर सकेंगे राशि


अतिरिक्त जिला परियोजना समग्र शिक्षा अभियान के राजेश अरोड़ा के अनुसार संस्था प्रधान स्कूल कंपोजिट ग्रांट को उपकरणों की मरम्मत, दरी खरीद, ब्लैक बोर्ड मरम्मत, ग्रीन बोर्ड, आदमकद शीशा, कर्मचारियों के फोटोयुक्त विवरण, चॉक-डस्टर, परीक्षा स्टेशनरी, विद्युत व पेयजल, विज्ञान-गणित किट, प्रतियोगिताओं के आयोजन, खेल सामग्री, शिक्षण-अधिगम सामग्री, इंटरनेट व अन्य छात्रहित कामों पर खर्च कर सकेंगे।


पीईईओ व विकास समिति के खाते में जमा होगी राशि, राज्य सरकार की नई व्यवस्था



यह मिलेंगी राशि

छात्र संख्या राशि


1 से 15 12500

16 से 100 25000

101 से 250 50000

251 से 1000 75000

1000 से अधिक 100000

राशि रुपए में।


10 प्रतिशत खर्च स्वच्छता पर होगा


राजेश अरोड़ा के मुताबिक स्कूल कंपोजिट ग्रांट में से 10 प्रतिशत स्कूल स्वच्छता एक्शन प्लान के तहत शौचालयों व मूत्रालयों के नियमित रखरखाव, कक्षा कक्षों में कचरा पात्र रखने व पेयजल टंकियों की साफ-सफाई पर खर्च किया जाएगा। इससे विद्यार्थियों को सुविधा मिल सकेगी।

© CCE Guru

Post a Comment

0 Comments