अध्यापक भर्ती 🔥 2022 लेवल - 1 : जिला आवंटन के बाद की प्रक्रियाएं

अध्यापक भर्ती 🔥 2022 लेवल - 1 : जिला आवंटन के बाद की प्रक्रियाएं

🔥राजस्थान के नवचयनित प्रथम लेवल के अध्यापकों की जिला आवंटन सूची


  शिक्षा विभाग राजस्थान सरकार ने अध्यापक भर्ती के लिए ढाई गुणा अभ्यर्थियों के दस्तावेज सत्यापन के बाद एक गुणा अभ्यर्थियों के लिए कट ऑफ मार्क्स एवं वास्तविक चयनितों की प्रोविजनल लिस्ट जारी की थी | तब से लेकर सभी अभ्यर्थियों को जिला आवंटन सूची का बेसब्री से इन्तजार था | जो कि अब अंतत: ख़त्म होने ही वाला है | विभाग द्वारा जिला आवंटन सूची जारी करने का कार्य अंतिम चरण में है | आप जिला आवंटन सूचियाँ निम्नांकित लिंक से डाउनलोड कर सकते हैं :

यदि डिपार्टमेंट की वेबसाइट पर ट्रफिक ज्यादा हो तो जिला आवंटन सूचियाँ डाउनलोड हेतु निम्नांकित लिंक्स पर भी उपलब्ध रहेंगी -

✅ गैर अनुसूचित क्षेत्र के विशेष शिक्षा के पदों पर जिला आवंटन सूची
✅ अनुसूचित क्षेत्र के विशेष शिक्षा के पदों पर जिला आवंटन सूची


💥आपको जो जिला आवंटित हुआ है उस जिले की समस्त आगामी प्रक्रियाओं की जानकारी हेतु वाट्सएप ग्रुप से जुड़ने के लिए 👉 यहाँ क्लिक करें ! 

जिला आवंटन के बाद आगे क्या होगा ?

अभ्यर्थियों को पदों की संख्या, उनकी मेरिट एवं आरक्षण संबधी प्रावधानों को मद्देनजर रखते हुए जिला आवंटन किए जाते हैं | उसके बाद संबंधित मुख्य जिला शिक्षा अधिकारी कार्यालय द्वारा विद्यालय आवंटन हेतु काउन्सलिंग करवाई जाती है | इसके लिए कार्यालय द्वारा प्रेस विज्ञप्ति जारी कर अभ्यर्थियों को एक निर्धारित दिनांक को काउन्सलिंग हेतु बुलाया जाता है | कार्यालय के नोटिस बोर्ड पर जिले के खाली पदों की सूची और काउन्सलिंग हेतु वरीयता क्रम की सूची चस्पा की जाती है | 

काउन्सलिंग लिस्ट कैसे बनती है ?

मेरिट लिस्ट और काउन्सलिंग लिस्ट दोनों अलग-अलग होती हैं | इसलिए कि आपके अच्छे अंक थे, आपको विद्यालय चयन हेतु वरीयता मिले, ऐसा जरूरी नहीं है | विद्यालय चयन हेतु वरीयता सूची अलग बनती है | इसके लिए सबसे पहले दिव्यांग > विधवा > तलाकशुदा > परित्यक्ता > अन्य विशेष श्रेणियां > समस्त महिला अभ्यर्थी > समस्त पुरुष अभ्यर्थी का क्रम निर्धारित रहता है | हाँ यह अवश्य है कि इस क्रम में भी आपकी मेरिट का पूरा ध्यान रखा जाता है |

शालादर्पण पर जो खाली पोस्ट हैं वे नोटिस बोर्ड क्यों नहीं होती ?

ये खाली पद समस्त खाली पद न होकर विभाग द्वारा जिले को आवंटित अभ्यर्थियों की संख्या के बराबर इस भर्ती से भरे जाने योग्य वरीयता से चुने गए खाली पद होते हैं | इसलिए यह कतई जरूरी नहीं है कि जो पोस्ट शालादर्पण पर रिक्त है उसे काउन्सलिंग हेतु सूची में भी प्रदर्शित किया जाए |


काउन्सलिंग कैसे होती है ? 🤔

काउन्सलिंग के दिन आपको निर्धारित दिनांक को मुख्य जिला शिक्षा अधिकारी कार्यालय अथवा अन्य निर्धारित स्थल पर पहुँचना होता है | यहाँ पर आपको एक फॉर्म दिया जाता जाता है जिसे टिकट भी कहते हैं | इसमें आपको नोटिस बोर्ड पर से देखकर अपना काउन्सलिंग क्रमांक भी भरना होता है | और हाँ आपको अपने आधार कार्ड की एक छाया प्रति अन्य मूल दस्तावेजों के साथ अवश्य ही साथ लेकर जानी है | अब आपको वरीयता क्रम के हिसाब से 10 अथवा 20 व्यक्तियों (जैसी भी बैठक व्यवस्था हो ) के समूह में काउन्सलिंग हॉल में बुलाया जाएगा | आपका नंबर आने पर आपसे आपका पसंदीदा ब्लॉक पूछा जाएगा | आपके द्वारा बता दिए जाने पर आपको संबंधित ब्लॉक की काउन्सलिंग टीम के पास भेज दिया जाएगा | यही टीम आपके समस्त दस्तावेजों तथा शपथ पत्रों का अंतिम रूप से अवलोकन करेगी | अब आपको इस ब्लॉक के शेष रिक्त पदों वाले विद्यालयों की सूची प्रदान की जायेगी | आप इनमें से अपनी इच्छानुसार विद्यालय चयन हेतु स्वतंत्र होंगे | आपके द्वारा विद्यालय चुन लिए जाने पर उद्घोषक द्वारा घोषणा की जायेगी कि "अमुक व्यक्ति द्वारा अमुक विद्यालय का चयन कर लिया गया है |" तथा तुरंत ही वह पद रिक्त पदों में से ऑनलाइन पोर्टल से कम कर दिया जाएगा | अब वह पद शेष अभ्यर्थियों के लिए प्रदर्शित नहीं होगा |

💥आपको जो जिला आवंटित हुआ है उस जिले की समस्त आगामी प्रक्रियाओं की जानकारी हेतु वाट्सएप ग्रुप से जुड़ने के लिए 👉 यहाँ क्लिक करें ! 

काउन्सलिंग के बाद आगे क्या होगा ?

काउन्सलिंग के बाद आपको नियुक्ति पत्र जारी किए जायेंगे | नियुक्ति पत्र आपके जिले की जिला स्थापना समिति की बैठक में अनुमोदन के पश्चात ही जारी किए जायेंगे | आप अपने जिले की अपडेट्स प्राप्त करने के लिए यहाँ क्लिक करके वाट्सएप पर जुड़ सकते हैं | नियुक्ति पत्रों की एक तो समेकित सूची होगी जिसमें आपके जिले के समस्त अभ्यर्थियों के नाम होंगे | दूसरे आपके नाम वाला एक व्यक्तिगत नियुक्ति आदेश भी होगा | 
उक्त आदेशों के साथ ही आपको जिला चिकित्सालय द्वारा जारी किया गया स्वास्थ्य प्रमाण पत्र भी लेकर जाना होगा |


स्वास्थ्य प्रमाण पत्र कब बनवाएं ?

यूं तो स्वास्थ्य प्रमाण पत्र एक दो दिन पहले का तथा अभ्यर्थी के मूल जिले का भी चल जाता है लेकिन कतिपय महोदय इसे अस्वीकार कर देते हैं | अत: हमारी सभी चयनित अभ्यर्थियों को सलाह है कि आप नियुक्ति पत्र जारी होने की दिनांक को ही अथवा इसके पश्चात को संबंधित जिले के जिला अस्पताल से ही बनवाएं |

पुलिस सत्यापन कब करवाएं ?

पुलिस सत्यापन नियुक्ति से 15 दिवस के भीतर जमा करवाना होता है | अत: आपको नियुक्ति पत्र प्राप्त होते ही अविलंब ई-मित्र पर जाकर इसके लिए आवेदन करें | आवेदन करते समय इस बात का विशेष ध्यान रखें कि यह प्रमाण पत्र आपको उसी ई-मित्र पर प्रिंट होकर मिलेगा जिससे आपने आवेदन किया था | ऑनलाइन आवेदन के दो दिन बाद आपके नजदीकी थाने में व्यक्तिश: संपर्क करके अथवा अपने किसी नजदीकी व्यक्ति को भेजकर अपना सत्यापन तुरंत करवा लें ताकि आपका पुलिस सत्यापन प्रमाण पत्र जल्दी जारी हो सके | कृपया ध्यान दें कि आपके पुलिस थाने द्वारा अप्रूव किये जाने के बाद वह एप्लीकेशन संबंधित कमिश्नरेट को फॉरवर्ड होती है तथा उनके कार्यालय द्वारा ही उक्त प्रमाण पत्र जारी किया जाता है |

समस्त प्रकार की नवीनतम जानकारियों के लिए टेलीग्राम पर जुड़ें ! इस समूह में आपको समस्त सेवाकाल हेतु आवश्यक कार्यों की जानकारियाँ तथा समस्या समाधान भी उपलब्ध होगा | 


Useful Links :


------------------------------------------
CCE / SIQE Time Table
------------------------------------------
CCE / SIQE Student Profile Portfolio
------------------------------------------
CCE / SIQE Baseline Test Papers
------------------------------------------
CCE / SIQE Worksheet / Practice Papers
------------------------------------------
CCE / SIQE Formative Assessment Papers
------------------------------------------
CCE / SIQE Summative Assessment Papers
------------------------------------------
CCE / SIQE Result Sheets
------------------------------------------
Teachers Portal
------------------------------------------
Shaladarshan / Shaladarpan Portal
------------------------------------------
Mid Day Meal Portal
------------------------------------------